Hindi Letter “Chori ki Report na likhe jane par Police Adhikari ko Patra”,”चोरी की रिपोर्ट न लिखा जाने पर पुलिस अधिकारी को पत्र”.

0
10

एक दिन सुबह जागने के बाद आपने पाया कि रात में आपके घर में चोरी हो गई है। आपने पुलिस को सूचित किया, किन्तु पुलिस नहीं आई। थाने जाने पर आपकी शिकायत भी नहीं लिखी गई। पूरी जानकारी देते हुए क्षेत्र के पुलिस अधिकारी को पत्र लिखिए।

 

सेवा में,

 

पुलिस उपायुक्त,

पश्चिमी क्षेत्र,

तिलक नगर,

नई दिल्ली

 

विषय: चोरी की रिपोर्ट न लिखा जाना।

महोदय,

मैं आशा पार्क, जेल रोड, नई दिल्ली का निवासी हूँ। कल दिनांक……………. को प्रातः जागने पर मैंनें पाया कि रात के समय मेरे घर में चोरी हो गई है। लगभग एक लाख रूपए का सामान चोरी चला गया। मैंनें तुरंत स्थानीय थाने को फोन पर सूचना दी, पर वहँा से पुलिस का कोई व्यक्ति जानकारी लेने नहीं आया। हारकर दम बजे मैं स्वंय हरिनगर थाने पहँुचा। वहाँ मेरे बार-बार अनुरोध करने के बावजूद किसी ने चोरी की शिकायत तक नहीं लिखी । पुलिस का यह रवैया बड़ा अप्रत्याशित प्रतीत हुआ। पुलिस तो ‘अपना हाथ सबके साथ’ का दावा करती है। अब मैं निराश होकर आपकी शरण में आया हूँ। मैं अपना पूरा विवरण नीचे दे रहा हँू-

नाम        : रवि सक्सेना

पता       : 5/21, आशा पार्क, जेल रोड, नई दिल्ली

चोरी का दिन: 5 अप्रैल, 2009 की रात्रि

चोरी गए सामान का विवरण:

  1. एक कलर टी0 वी0
  2. एक सोने की चेन लगभग 20 ग्राम वनज
  3. दो सोने की चूड़ियाँ लगभग 30 ग्राम वजन
  4. दस साड़ियाँ

आपसे निवेदन है कि आप संबोंधित थाने को निर्देश देकर मेरी शिकायत दर्ज करवाएँ।

धन्यवाद सहित

 

दिनांक: 6 अप्रैल, 20…..

भवदीय

रवी सक्सेना


About

The main objective of this website is to provide quality study material to all students (from 1st to 12th class of any board) irrespective of their background as our motto is “Education for Everyone”. It is also a very good platform for teachers who want to share their valuable knowledge.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here